मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना - Government of Madhya Pradesh
Chief Minister's Rural Housing Mission, Madhya Pradesh
i-ASHRAY (integrated - Automation System for Housing in Rural Areas Yojna)
Login | Portal Home
Guest User
11/25/2017 10:55:31

Frequently Asked Questions( सवाल-जबाब)


मुखयमंत्री ग्रामीण आवास योजना मुखयमंत्री ग्रामीण आवास योजना, म.प्र. शासन की अत्यन्त महत्वपूर्ण तथा अत्यन्त महत्वाकांक्षी योजना है जिसके अंतर्गत वृहद स्तर पर ग्रामीण क्षेत्र में आवास निर्माण किए जाएंगे।
योजना के संबंध में पूर्व में निर्देश जारी किए जा चुके हैं। योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु यह आवश्यक है कि योजना अंतर्गत समस्त पहलुओं की जानकारी अधिस्थ अमले को हो। उक्त स्थिति को ध्यान में रखते हुए पत्र के साथ योजना के संबंध में Frequently Asked Questions (FAQs) संलग्न कर प्रेषित्‌ है।
  • 1. क्या योजनांतर्गत ऐसे हितग्राही को लाभ दिया जा सकता है जो बी.पी.एल. की सूची में नहीं है ?
    स्पष्टीकरण - हितग्राही का नाम अगर बी.पी.एल. सूची में नहीं है परंतु वह योजना के प्रावधान अनुसार पात्रता जैसे हितग्राही के पास एक हेक्टेयर से कम कृषि भूमि है अथवा सभी श्रोतों से हितग्राही की आय अधिकतम 1.25 लाख वार्षिक हो तो उसे योजनांतर्गत लाभ दिया जा सकता है।
  • 2. क्या भूमि हीन व्यक्ति को योजनांतर्गत लाभ दिया जा सकता है ?
    स्पष्टीकरण - योजना मात्र ग्रामीण क्षेत्र में वर्तमान प्रचलित आवादी क्षेत्र में लागू होगी। अतः भूमि हीन व्यक्तियों को आवादी क्षेत्र का पट्‌टा प्राप्त होने के उपरांत ही योजना का लाभ दिया जा सकता है।
  • 3. क्या ग्रामीण क्षेत्र में शासकीय भूमि पर अतिक्रमण कर निर्माण किए गए आवासों को नियमित किया जा सकता है ?
    स्पष्टीकरण - योजना का उद्‌देश्य मांग आधारित स्वभागिदारी ऋण से अनुदान के सिद्धांत के आधार पर ऐसे हितग्राही जिनके पास पूर्व से ही आवादी क्षेत्र में भू-खण्ड उपलब्ध है या नियमानुसार भू-खण्ड उपलब्ध कराया जा रहा हो मात्र ऐसे ही हितग्राहियों को योजनांतर्गत लाभान्वित किया जा सकता है । शासकीय भूमि पर किए गए आवासीय अतिक्रमण को नियमित करना योजना की परिधि में नहीं है।
  • 4. क्या हितग्राही को शासन से मिलने वाला अनुदान तथा बैंक से मिलने वाली ऋण राशि पूर्व निर्धारित है ?
    स्पष्टीकरण -
    • अ. समस्त पात्र हितग्राहियों को शासन से मिलने वाला अनुदान रू. 30000/- पूर्व निर्धारित है।
    • ब. बैंक से मिलने वाला ऋण हितग्राही की स्वेच्छानुसार न्यूनतम रू. 30000/- से लेकर अधिकतम रू. 45000/- तक।
  • 5. क्या आवास निर्माण की इकाई रू. 70000/- नियत की गई है ?
    स्पष्टीकरण -
    • अ. समस्त पात्र हितग्राहियों को शासन से मिलने वाला अनुदान रू. 30000/- पूर्व निर्धारित है।
    • ब. बैंक से मिलने वाला ऋण हितग्राही की स्वेच्छानुसार न्यूनतम रू. 30000/- से लेकर अधिकतम रू. 45000/- तक।
    • स. परंतु हितग्राही स्वेच्छा से अधिक राशि लगाकर भी अपना आवास निर्माण कर सकता है।
  • 6. क्या एक पिता के पुत्रों को योजनांतर्गत लाभान्वित किया जा सकता है ?
    स्पष्टीकरण - आवास निर्माण के लिए यदि हितग्राही के पास पृथक-पृथक भूमि/प्लाट उपलब्ध हों तो तथा वे पात्रता की अन्य समस्त शर्तें पूरी करते हों तो उन्हें योजनांतर्गत लाभ दिया जा सकता है।
  • 7. अगर किसी हितग्राही का पूर्व से ही आवास निर्मित हो तो क्या ऐसे हितग्राही को लाभ दिया जा सकता है ?
    स्पष्टीकरण - सशर्त हॉं।
    1. हितग्राही के पास आवादी का पट्‌टा हो।
    2. इस भूमि पर न्यूनतम 225 वर्ग फीट में निर्माण किया जाएगा।
  • 8. क्या ग्राम सभा द्वारा हितग्राहियों की सूची अनुमोदित कराना अनिवार्य है ?
    स्पष्टीकरण - हॉ।
  • 9. ग्राम सभा द्वारा निर्धारित प्राथमिकता क्रम का पालन करना अनिवार्य है ? क्या यह बदला जा सकता है ?
    स्पष्टीकरण - चूंकि योजनांतर्गत ऋण स्वीकृति बैंक द्वारा पात्रता तथा ऋण पुनः भुगतान क्षमता के आधार पर बैंक द्वारा दी जाएगी। अतः प्राथमिकता क्रम के आधार पर निर्णय बैंक लेगा। अतः प्राथमिकता क्रम में स्थानीय स्तर से संशोधन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • 11. यदि कोई व्यक्ति पात्रता की दो शर्ते अधिकतम एक हेक्टेयर भूमि और सभी और सभी स्त्रोतों से अधिकतम वार्षिक आय 1-25 लाख रुपये में से कोई एक शर्त ही पूरी करता है तो क्या वह योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है?
    स्पष्टीकरण - किसी भी व्यक्ति को योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्रता की दोनों शर्ते पूरी करनी होगीं
  • 12. क्या शासन द्वारा अनुमोदित गृह अभिन्यास में बदलाव अथवा किसी अन्य अभिन्यास का उपयोग किया जा सकता है?
    स्पष्टीकरण - हितग्राही को अभिन्यास में बदलाव अथवा अन्य अभिन्यास के उपयोग का पूरा अधिकार है। ऐसी स्थिती में हितग्राही को नये अभिन्यास का अनुमोद प्राधिकृत अधिकारी/एजेन्सी प्राप्त करना होगा।
  • 13. यदि ऐसी भूमि जिसके एक से अधिक स्वामी है, तो वह उस भूमि पर एक से अधिक मकान को निर्माण करने के लिए योजना में लाभ प्राप्त कर सकते है?
    स्पष्टीकरण - योजना के अंतर्गत भूमि के एक से अधिक स्वामी होने के स्थिती में भी, एक ही मकान के निर्माण के लिए लाभ दिया जायगा।